Breaking News
Home / देश / यूपी में लॉकडाउन के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट, नहीं लगेगी पांच शहरों में तालाबंदी

यूपी में लॉकडाउन के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट, नहीं लगेगी पांच शहरों में तालाबंदी


-हाइकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीमकोर्ट पहुंची योगी सरकार–

-सुप्रीमकोर्ट ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले पर लगाई रोक–

-उत्तर प्रदेश में वीकेंड लॉकडाउन, शुक्रवार रात से सोमवार सुबह तक रहेगी बंदी–

लखनऊ, 20 अप्रैल 2021,उत्तर प्रदेश के पांच शहरों जिसमें लखनऊ, वाराणसी, कानपुरनगर, प्रयागराज और गोरखपुर में लॉकडाउन नहीं लगेगा. सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले पर रोक लगा दी है, इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि क्यों न इस मामले की सुनवाई हाई कोर्ट ही करे, क्योंकि हमारे पास कई केस लंबित हैं, इलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ यूपी सरकार आज सुप्रीम कोर्ट पहुंची थी, यूपी सरकार की ओर से सॉलीसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा था कि हमने कोरोना कंट्रोल करने के लिए कई कदम उठाए हैं, कुछ और कदम उठाने हैं, लेकिन लॉकडाउन इसका हल नहीं है।

यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को दी ये दलील..

दरअसल यूपी सरकार की दलील है कि प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़े हैं और सख्ती कोरोना के नियंत्रण के लिए आवश्यक है, सरकार ने कई कदम उठाए हैं और आगे भी सख्त कदम उठाए जा रहे हैं, जीवन बचाने के साथ गरीबों की आजीविका भी बचानी है, ऐसे में शहरों में संपूर्ण लॉकडाउन अभी नहीं लगेगा, लोग खुद ही से कई जगह बंदी कर रहे हैं, गौरतलब है कि कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के बीच इलाहाबाद हाई कोर्ट ने यूपी के पांच शहरों में लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया था, हाई कोर्ट ने वाराणसी, कानपुर नगर, गोरखपुर, लखनऊ और प्रयागराज में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाने का आदेश जारी किया था।

हाईकोर्ट ने सरकार को लगाई थी फटकार..

कल इलाहाबाद हाई कोर्ट ने सुनावई के दौरान कहा कि किसी भी सभ्य समाज में अगर जन स्वास्थ्य प्रणाली चुनौतियों का सामना नहीं कर पाती और दवा के अभाव में लोग मरते हैं तो इसका मतलब है कि समुचित विकास नहीं हुआ है, स्वास्थ्य और शिक्षा एक साथ चलते हैं, शासन के मामलों के शीर्ष में रहने वाले लोगों को वर्तमान अराजक स्वास्थ्य समस्याओं के लिए दोषी ठहराया जा सकता है, ऐसे समय जबकि लोकतंत्र मौजूद है जिसका अर्थ है लोगों की सरकार, लोगों द्वारा और लोगों के लिए, अपने आदेश में कोर्ट की तरफ से यूपी के मुख्य सचिव को खुद निगरानी करने के लिए निर्देश दिए गए थे, कोर्ट की तरफ से दिया गया यह आदेश आज रात से लागू होना था, इस दौरान इन शहरों में जरूरी सेवाओं वाली दुकानों को छोड़कर कोई भी दुकान, होटल, ऑफिस और सार्वजनिक स्थल नहीं खुलने की बात कही गई थी, साथ ही मंदिरों में पूजा और आयोजनों पर भी रोक लगाने का आदेश दिया गया था, कोर्ट की तरफ से जारी आदेश के मुताबिक प्रयागराज, लखनऊ, वाराणसी, कानपुर नगर और गोरखपुर में आर्थिक संस्थानों, मेडिकल और हेल्थ सर्विस, इंडस्ट्रियल और वैज्ञानिक संस्थानों और जरूरी सेवाओं वाले संस्थानों को छोड़कर सभी चीजें बंद रखने के लिए कहा गया था।

उत्तर प्रदेश में वीकेंड लॉकडाउन, शुक्रवार रात से सोमवार सुबह तक रहेगी बंदी–इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज टीम-11 के अधिकारियों के साथ वर्चुअली बैठक में निर्णय लिया कि यूपी में अब वीकेंड लाॅकडाउन लागू होगा, यानि कि अब रविवार के साथ ही शनिवार को भी बंदी रहेगी।

रिपोर्ट @ आफाक अहमद मंसूरी

About Janadhikar Media

Janadhikar Media

Check Also

कोरोना योद्धा की कोरोना से मौत के बाद एक करोड मृतक के परिवार को देने की मांग

🔊 पोस्ट को सुनें कोरोना योद्धा की कोरोना से मौत के बाद एक करोड मृतक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Naat Sharif Download Website Designer Freelance WordPress Developer All Lucknow Services Portal