Breaking News
Home / देश / महाराष्ट्र / बंराज कोयला खदान के प्रकल्पग्रस्त कामगारों ने अपनी मांगों को लेकर भद्रावती से चन्द्रपुर पैदल मार्च निकाला

बंराज कोयला खदान के प्रकल्पग्रस्त कामगारों ने अपनी मांगों को लेकर भद्रावती से चन्द्रपुर पैदल मार्च निकाला


बंराज कोयला खदान के प्रकल्पग्रस्त कामगारों ने अपनी मांगों को लेकर भद्रावती से चन्द्रपुर पैदल मार्च निकाला

जिलाधिकारी एवं सांसद को ज्ञापन सौपा गया

*भद्रावती* प्रकल्पग्रस्तो की समस्याओ की अनदेखी किये जाने से जिला प्रसाशन का ध्यान आकर्षित करने के उद्देश्य से कामगार व प्रकल्पग्रस्तो ने गुरुवार की सुबह 8:00बजे भद्रावती से चंद्रपुर जिला अधिकारी कार्यालय तक पैदल मोर्चा निकाला गया इस बीच पुलिस ने कूछ आंदोलनकर्ताओ को हिरासत में लिया जिन्हें बाद छोड़ दिया गया ।गुरुवार को चन्द्रपुर जिले के भद्रावती तालुका के अंतर्गत आने वाले बंराज कोयला खदान के परियोजना पीड़ितो और श्रमिकों की विभिन्न मांगो को लेकर कर्नाटक पावर कारपोरेशन लिमिटेड के अधिकारियों के साथ एक बैठक आयोजित करने के लिए 29 अक्टूबर 2020 को कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया उपरोक्त के मद्देनजर, बरंज कोयला खदान 31 मार्च, 2015 से बंद है। क्षेत्र में यह कहा जा रहा है कि काम शुरू करने के लिए आंदोलन हो रहा है। हालांकि, और 31 मार्च, 2015 के खदान आवंटन आदेश के अनुसार, खदान का मूल मालिक कर्नाटक पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड है। इसमें मुख्य समस्याएं रोजगार, वेतन, भविष्य निधि, पुनर्वास, पुनर्वास नीति में सुधार के साथ-साथ शेष परियोजना पीड़ितों के लिए रोजगार, बाकी कृषि भूमि अधिग्रहण के लिए प्रमुख समस्याएं हैं बरंजवासी ग्रामीण माननीय कलेक्टर को बयान दिया कि उपरोक्त सभी मांगें न्यायसंगत हैं और स्थानीय परियोजना प्रभावित किसानों और श्रमिकों के हित में हैं और हमें नियमानुसार ऐसा करने का अधिकार है। फिर भी आज तक हम वंचित हैं। इसलिए, माननीय कलेक्टर ने अपने स्तर पर कर्नाटक पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड के अधिकारियों को निर्देश दिए। कर्नाटक पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड को परियोजना प्रभावित किसानों और श्रमिकों को न्याय दिलाने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में अपने कक्षों में बैठक आयोजित करने की चेतावनी दी गई है, अन्यथा परियोजना प्रभावित किसान और श्रमिक आंदोलन शुरू कर देंगे।
पैदल मार्च मोर्चा के नेतृत्व कामगार नेता राजू डोंगे, रामदास मत्ते, दिनेश वानखेड़े, राजगोपाल जयरामन, संजय ढ़कने ,प्रभाकर कुलमेथे,व अन्य कामगार तथा प्रकल्पग्रस्तो का समावेश था ।

@रिपोर्ट ब्योरो हेड किशोरी कांत चौधरी

संवाददाता घुग्घूस चंद्रपुर महेश भुर्ती की रिपोर्ट

About Janadhikar Media

Janadhikar Media

Check Also

आठ माह का खत्म हुआ इंतजार, खुले आस्था के द्वार

🔊 पोस्ट को सुनें आठ माह का खत्म हुआ इंतजार, खुले आस्था के द्वार श्रद्धालुओं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *